क्या है वैदिक होली ?

 

होली का त्यौहार सर्दी और गर्मियों के बिच में आता है, इस दौरान वायरस की संख्या अधिक हो जाती है और इस साल जब एक सबसे भयंकर वायरस Covid-19 जिसने पूरी धरती का विनाश करके रखा है, ऐसे में जब हम वैदिक होली मानते है जिसमे हम लकड़ियों का नहीं परन्तु गाय के गोबर से बानी गौकास्त का इस्तेमाल करते है, तो इससे वातावरण शुद्ध होगा और ऑक्सीजन का प्रभाव बढ़ेगा।

 

तो आइए इस वर्ष वैदिक होली मनाने का संकल्प करें और अपने देश को पर्यावरण सुरक्षित बनाए और गौ माता को एक अनोखा दर्जा दे जिससे उन्हें कभी भी कोई कत्ल खाने भेजने की सोच भी ना सके।

जय गौ माता। जय गोपाल।

Vedic Gaukast

₹15.00Price